Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi

Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi:– “अच्छी किताबें और अच्छे लोग तुरंत समझमें नहीं आते उन्हें पढना पड़ता हैं..!!”

“सीने में धड़कता जो हिस्सा हैं…. उसी का तो ये सारा किस्सा हैं..!!”

Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi – थोडा-सा हस के थोडा-सा रुलाके पल यही जानेवाले हैं

“थोडा-सा हस के थोडा-सा रुलाके पल यही जानेवाले हैं..!!”

Also Read Gulzar Shayari Here: https://gulzarquotes.in/gulzar-shayari/

तकलीफ़ ख़ुद की कम हो गयी, जब अपनों से उम्मीद कम हो गईं – Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi

“तकलीफ़ ख़ुद की कम हो गयी, जब अपनों से उम्मीद कम हो गईं…!!”

Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi

Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi – घर में अपनों से उतना ही रूठो की आपकी बात और दूसरों की इज्जत, दोनों बरक़रार रह सके

“घर में अपनों से उतना ही रूठो की आपकी बात और दूसरों की इज्जत, दोनों बरक़रार रह सके…!!”

शोर की तो उम्र होती हैं ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं

“शोर की तो उम्र होती हैं ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं…!!”

“बहुत अंदर तक जला देती हैं, वो शिकायते जो बया नहीं होती…!!”

कौन कहता हैं की हम झूठ नहीं बोलते एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें

“कौन कहता हैं की हम झूठ नहीं बोलते एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें ….!!”

Top 4 Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi

हाथ छुटे भी तो रिश्ते नहीं नहीं छोड़ा करते, वक्त की शाख से लम्हें नहीं तोडा करते

“हाथ छुटे भी तो रिश्ते नहीं नहीं छोड़ा करते, वक्त की शाख से लम्हें नहीं तोडा करते…!!”

“वक्त रहता नहीं कही भी टिक कर, आदत इस की भी इंसान जैसी हैं…!!”

एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद..दूसरा सपना देखने के हौसले को ‘ज़िंदगी’ कहते हैं

“एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद..दूसरा सपना देखने के हौसले को ‘ज़िंदगी’ कहते हैं..!!”

Gulzar Quotes on Life in Hindi

“कुछ बातें तब तक समझ में नहीं आती जब तक ख़ुद पर ना गुजरे..!!”

“किसी पर मर जाने से होती हैं मुहब्बत, इश्क जिंदा लोगों का नहीं..!!”

गुलज़ार लाइफ कोट्स हिंदी

देखो, आहिस्ता चलो, और भी आहिस्ता ज़रा
देखना, सोच-सँभल कर ज़रा पाँव रखना,
ज़ोर से बज न उठे पैरों की आवाज़ कहीं.
काँच के ख़्वाब हैं बिखरे हुए तन्हाई में,
ख़्वाब टूटे न कोई, जाग न जाये देखो,
जाग जायेगा कोई ख़्वाब तो मर जाएगा

शब्द नए चुनकर कविता हर बार लिखू
उन दो आँखों में अपना सारा प्यार लिखू
वो में विरह की वेदना लिखू या मिलन की झंकार लिखू
कैसे इन चंद लफ्जो में दोस्तों अपना सारा प्यार लिखू

ना दूर रहने से रिश्ते टूट जाते हैं
ना पास रहने से जुड़ जाते हैं
यह तो एहसास के पक्के धागे हैं
जो याद करने से और मजबूत हो जाते हैं

एक सो सोलह चाँद की रातें
एक तुम्हारे कंधे का तिल
गीली मेहँदी की खुश्बू
झूठ मूठ के वादे
सब याद करादो, सब भिजवा दो
मेरा वो सामान लौटा दो

palak se paanee gira hai, to usako girane do koee puraanee tamanna, pinghal rahee hogee

bahut mushkil se karta hoon, teree yaadon ka kaarobaar, munaapha kam hai, par guzaara ho hee jaata hai

koee puchh raha hain mujhase meree jindagee kee keemat

गुलज़ार हिन्दी कविता

आदमी बुलबुला है पानी का
और पानी की बहती सतह पर टूटता भी है, डूबता भी है,
फिर उभरता है, फिर से बहता है,
न समंदर निगला सका इसको, न तवारीख़ तोड़ पाई है,
वक्त की मौज पर सदा बहता आदमी बुलबुला है पानी का। Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi

बीच आसमाँ में था
बात करते- करते ही
चांद इस तरह बुझा
जैसे फूंक से दिया
देखो तुम….
इतनी लम्बी सांस मत लिया करो

सूरज झांक के देख रहा था खिड़की से
एक किरण झुमके पर आकर बैठी थी,
और रुख़सार को चूमने वाली थी कि
तुम मुंह मोड़कर चल दीं और बेचारी किरण
फ़र्श पर गिरके चूर हुईं
थोड़ी देर, ज़रा सा और वहीं रूकतीं तो Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi

आओ तुमको उठा लूँ कंधों पर
तुम उचकाकर शरीर होठों से चूम लेना
चूम लेना ये चाँद का माथा
आज की रात देखा ना तुमने
कैसे झुक-झुक के कोहनियों के बल
चाँद इतना करीब आया है

Gulzar Quotes on Zindagi in Hindi